नोएडा अथॉरिटी-यादव सिंह घपले का समाजवादी घमासान से कनेक्शन?

Loading the player...

Noida authority-Yadav Singh's connection with samajwadi party fued?

Last updated : 12 January, 2017 | Political

यूपी में चल रहे समाजवादी घमासान का कनेक्शन अब नोएडा अथॉरिटी के पूर्व चीफ इंजीनियर यादव सिंह के घपले से भी जुड़ गया है। बुधवार को मुलायम सिंह ने आरोप लगाया कि अपने बेटे और बहू को बचाने के लिए रामगोपाल यादव कई बार बीजेपी अध्यक्ष से मिले। मुलायम ने रामगोपाल यादव पर बेटे और बहू के कहने पर पार्टी को तोड़ने का आरोप लगाया।

समाजवादी पार्टी में चल रही वर्चस्व की लड़ाई ने नया मोड़ ले लिया है। मुलायम सिंह यादव ने अब रामगोपाल यादव के खिलाफ सीधा मोर्चा खोल दिया है। मुलायम ने पहली बार रामगोपाल यादव के बेटे और बहू पर यादव सिंह के घपले में शामिल होने का आरोप लगाया। मुलायम ने कहा कि रामगोपाल अपने बेटे और बहू को बचाने के लिए 3 बार बीजेपी अध्यक्ष से मिले।

दरअसल, नोएडा अथॉरिटी के पूर्व चीफ इंजीनियर यादव सिंह से जुड़ी कई कंपनियां सीबीआई जांच के घेरे में है। ऐसे ही एक कंपनी से रामगोपाल यादव के बेटे अक्षय यादव और बहू ऋचा का नाम जुड़ा है।

मुलायम ने रामगोपाल पर नई पार्टी बनाने का भी आरोप लगाया। मुलायम ने कहा कि नई पार्टी और नए चुनाव चिन्ह की मांग रामगोपाल कर रहे हैं वो नहीं। मुलायम ने कहा, वह अखिल भारतीय समाजवादी पार्टी बना रहे हैं। जिसके लिए उन्होंने मोटरसाइकिल चुनाव चिन्ह मांगा है।

राज्यसभा सांसद रामगोपाल यादव मुलायम के चचेरे भाई है और अखिलेश खेमे के सबसे बड़े रणनीतिकार हैं। चुनाव आयोग में अखिलेश की ओर से वही मोर्चा संभाले हुए हैं। एसपी का राष्ट्रीय अधिवेशन भी रामगोपाल यादव ने ही बुलाया था। इसी अधिवेशन में मुलायम को हटाकर अखिलेश को राष्ट्रीय अध्यक्ष बनाया गया।

Read More

related stories