Loading the player...

उत्तर प्रदेश के किसानों से चुनावी वादा पूरा करने के दबाव योगी सरकार के साथ-साथ केंद्र सरकार पर बढ़ता जा रहा है। इसी बीच वित्त मंत्री अरुण जेटली ने गुरुवार को केंद्र सरकार की ओर से किसानों का कर्ज माफ किए जाने की संभावना से इनकार कर दिया। उन्होंने कहा कि राज्य अगर किसानों के कर्ज माफ करते हैं तो उन्हें खुद इसका खर्च उठाना पड़ेगा।

वित्त मंत्री ने स्पष्ट किया कि केंद्र सरकार ऐसा नहीं कर सकती कि एक राज्य के किसानों को कर्ज माफी दे और दूसरे को नहीं। यूपी में योगी सरकार को शपथ लिए पांच दिन बीत गए है लेकिन अभी तक किसानों की कर्ज माफी का ऐलान नहीं हुआ है। जबकि चुनाव प्रचार के दौरान बीजेपी के सभी दिग्गज नेताओं ने दावा किया था कि सरकार बनने के बाद पहली कैबिनेट बैठक में ही किसानों का कर्जा माफ कर दिया जाएगा। शायद यही दबाव है कि अभी तक योगी कैबिनेट की पहली औपचारिक बैठक तक नहीं हो पाई है।

इस बीच केंद्र सरकार ने भी योगी सरकार को बड़ा झटका दे दिया है। गुरुवार को केंद्रीय वित्त मंत्री अरुण जेटली ने केंद्र सरकार की ओर से किसानों का कर्ज माफ किए जाने की संभावना से साफ इनकार कर दिया। राज्यसभा में अरुण जेटली ने कहा कि, राज्य अगर किसानों के कर्ज माफ करते हैं तो उन्हें खुद इसका खर्च उठाना पड़ेगा। वित्त मंत्री ने साफ किया कि केंद्र सरकार ऐसा नहीं कर सकती कि एक राज्य के किसानों को कर्ज माफी दे और दूसरे को नहीं। जेटली ने कहा, “अगर किसी राज्य सरकार के पास पैसे हैं और वह कर्ज माफ करना चाहती है तो ऐसा कर सकती है।”

केंद्र सरकार के इस ताजा स्टैंड से यूपी के साथ-साथ महाराष्ट्र सरकार को भी बड़ा झटका लगा है। पिछले दिनों महाराष्ट्र के सीएम देवेंद्र फडणवीस ने भी वित्त मंत्री अरुण जेटली से मुलाकात कर किसानों के कर्ज माफी में मदद की मांग की थी। फडणवीस ने साफ कहा था कि किसानों का कर्ज माफ करना अकेले राज्य सरकार के बूते की बात नहीं है। फडणवीस ने केंद्र से पचास फीसदी सहायता की मांग की थी लेकिन जेटली के रुख से साफ है कि किसानों की कर्ज माफी पर केंद्र राज्यों की कोई मदद नहीं करेगा।

ऐसे में अब सबसे बड़ा संकट यूपी की योगी सरकार के सामने है। यूपी सरकार का खजाना तो खाली है। ऐसे में बड़ा सवाल ये है कि सीएम योगी किसानों का कर्ज माफ करने के लिए पैसा कहां से लेकर आएंगे। सीएम योगी को पीएम मोदी से उम्मीदें थी लेकिन अब वो भी धराशाही होने लगी है। यहां एक बड़ा सवाल ये भी है कि क्या यूपी में किसानों के कर्ज माफी का वादा भी कहीं चुनावी जुमला तो नहीं बन जाएगा।

Read More